कोरोनाः हेल्‍थ वर्कर्स का बीमा कवर बन्‍द किया केंद्र सरकार ने, ड्युटी पर मौत से मिलता था  50 लाख 

:: न्‍यूज मेल डेस्‍क ::

केंद्र सरकार की इस योजना को मार्च 2020 में शुरू किया गया था। इसका उद्देश्य कोरोना हेल्थ वर्कर्स को सुरक्षा मुहैया कराना था जिससे कोरोना वॉरियर्स की मौत होने पर उनके परिवार की देखभाल हो सके। एक ओर जहां देश में कोरोना की दूसरी लहर तेजी से फैल रही है। लाखों की संख्या में लोग पॉज़िटिव पाये जा रहे हैं। वहीं दूसरी ओर मोदी सरकार ने कोरोना वॉरियर्स को मिलने वाली बीमा योजना को वापस ले लिया है। इस योजना के तहत ड्यूटी में हेल्थ वर्कर्स की मौत होने पर परिजनों को 50 लाख रुपये तक का बीमा कवर मिलता है।

Infrastructure for combating cyber crimes

:: M.Y.Siddiqui ::

States/Union Territories (UTs)have set up 169 cyber police stations across the country to combat ever rising cyber crimes in the country as per a latest report, Data on Police Organisatons for 2020 by the Bureau of Police Research and Development (BPR&D). Union Government in the Ministry of Home Affairs (MHA) provides overarching logistic support to enable them to function effectively. In the scheme of the Constitution of India, Law and Order are State subjects.

Sections

राष्‍ट्रपति चुनााव:द्रौपदी एनडीए और यशवंत विपक्ष के प्रत्‍याशी

Approved by admin on Wed, 06/22/2022 - 08:43

:: न्‍यूज मेल डेस्‍क ::

रांची/जमशेदपुर: देश के नये राष्‍ट्रपति चुनाव को लेकर एनडीए ने झारखंड की पूर्व राज्‍यपाल द्रौपदी मुर्मू को अपना प्रत्‍याशी बनाया है। इधर, विपक्ष ने टीएमसी सांसद रहे यशवंत सिन्‍हा पर अपना दांव खेला है। सिन्‍हा मोदी के धूर विरोधियों में गिने जाते हैं। माना जा रहा है कि एनडीए राष्‍ट्रपति चुनाव में एड़ी चोटी एक करनेवाली है।

द्रौपदी मुर्मू को प्रत्‍याशी बनाये जाने पर झारखंड व अन्‍य आदिवासी इलाकों में एक खुशी की लहर देखी जा रही है। राष्‍ट्रीय सेंगेल अभियान के अध्‍यक्ष ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी करते हुए कहा है कि 

Sections

गीतांजलि श्री को बुकर, हिंदी को मिला सम्‍मान

:: न्‍यूज मेल डेस्‍क ::

"मुझसे कहा गया था कि यह लंदन है और मुझे यहां हर तरह से तैयार होकर आना चाहिए। यहां बारिश हो सकती है, बर्फ़ गिर सकती है, बादल भी घिर सकते हैं, धूप भी निकल सकती है। और शायद बुकर भी मिल सकता है। इसलिए मैं तैयार होकर आयी थी पर अब लगा रहा है जैसे मैं तैयार नहीं हूं। बस अभिभूत हूं।"

हिंदी लेखिका गीतांजलि श्री जब बुकर पुरस्कार जीतने के बाद मंच से यह बात कह रही थीं तो पूरे हॉल की लाइट उनके और डेज़ी रॉकवेल के चेहरे पर थी।

Sections

पूजा सिंघल के सहयोगी ठेकेदारों के यहां ईडी की छापामारी, भारी अवैध संपत्ति के खुलासा का संकेत

Approved by admin on Wed, 05/25/2022 - 10:10

:: न्‍यूज मेल डेस्‍क ::

रांची: झारखंड में पदस्‍थापित आइएएस पूजा सिंघल के बैकएन्‍ड नेटवर्क का दायरा काफी बड़ा है। ईडी ने मंगलवार को रांची और मुजफ्फरपुर के सात ठिकानों पर छापा मारी करते हुए यह संकेत दिया है। पूजा का करीबी विशाल चौधरी के ठिकानों से ईडी ने छापेमारी में बेहिसाब लेन-देन के साक्ष्य जुटाए हैं। झारखंड कैडर के कई आईएएस अधिकारियों से विशाल चौधरी के करीबी रिश्ते हैं। विशाल को आईएएस राजीव अरुण एक्का का करीबी माना जाता है, लेकिन उनके अलावा कई अन्य आईएएस व एक आईएफएस अधिकारी का भी विशाल के यहां आना-जाना था।

Sections
Tags

Policing VPNs

:: M.Y.Siddiqui ::

Recent directive of the Indian Computer Emergency Response Team (Cert-In) requiring Virtual Private Network (VPN) service providers to store user data for five years, is  yet another step to make India a full fledged surveillance state following all other internet based free flow of information having already been policed by the current fascist union government. Journalists, activists and others who use VPNs to hide their Internet footprint will now be in quandary to think whether to use such devices.

Sections

Replace toothless Press Council with Media Council: NAJ, DUJ

Approved by admin on Tue, 05/03/2022 - 09:30

:: News Mail ::

On the eve of World Press Freedom Day, observed on May 3, the National Alliance of Journalists (NAJ) and the Delhi Union of Journalists (DUJ) have expressed shock and anger at increasing attacks on the media in the past year. the journalists’ bodies have demanded that a “comprehensive law be immediately enacted to protect media persons from arbitrary arrests and prosecutions.”

Sections

उरांव जनजाति की महिलाओं को पैतृक संपत्ति में अधिकार फैसले का सेंगेल ने स्‍वागत किया

Approved by admin on Tue, 04/26/2022 - 11:00

:: न्‍यूज मेल डेस्‍क ::

रांची / जमशेदपुर: आदिवासी सेंगेल अभियान ने झारखंड हाई कोर्ट द्वारा 22 अप्रैल 2022 को उरांव जनजाति की महिलाओं को पैतृक संपत्ति में अधिकार पाने को ऐतिहासिक फैसला बताते हुए का फैसले का स्वागत किया है। सेंगेल के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष सालखन मुर्मू ने कहा कि यह संविधानसम्मत होने के साथ-साथ स्त्री पुरुष के बीच भेदभाव को समाप्त करता है। अतः आदिवासी समाज के अन्य सभी जनजातियों यथा संताल,मुंडा, हो, भूमिज आदि के बीच में भी इसको लागू करने का रास्ता प्रशस्त होता है। परंतु कतिपय आदिवासी संगठन प्रथा, परंपरा या कस्टम आदि के नाम पर संविधान- कानून विरोधी कुछएक प्राचीन क्रियाकलापों को जीवित रखने की वकालत कर समाज

Strengthening India’s cyber security

:: M.Y.Siddiqui ::

Police and Public Order are State subjects in keeping with the Seventh Schedule to the Constitution of India making the States and Union Territories primarily responsible for deployment of adequate infrastructural facilities, state-of-the-art technology gadgets, manpower and training of police to combat the menace of growing cyber crimes. However, the Central Government supplements the initiatives of the States/Union Territories (UTs) through advisories and schemes for the capacity building of their law enforcing agencies.

Sections