सरकार को गरीब किसानों की चिंता नहीं है बाबुलाल

Approved by Anonymous (not verified) on Wed, 12/26/2018 - 21:07

बगोदर/गिरिडीह: झारखंड राज्य आज 18 साल का हो गया,इस 18 साल में कई सरकारे आयी और गई प्रदेश में  रघुवर की जो  सरकार  बनी ।इस सरकार को गांव गरीब किसानों की चिंता नहीं है बल्कि बड़े बड़े कारपोरेट घारनो की चिंता है।उक्त बाते झाविमो के सुप्रीमों बाबुलाल मरांडी ने  बुधवार को बगोदर बस पडाव में झाविमो के द्वारा आयोजित कार्यकर्ता सम्मेलन में बोले।उन्होंने कहा कि भाजपा केन्द्र व राज्य में झूठ बोल कर सत्ता में  आयी ।इस सरकार कथनी और करनी में अंतर है ।यह सरकार ट्रांसफर पोस्टींग के नाम पर दुकान खोल कर पैसे ले रही है ।ऐसे में  भ्रष्टाचार पर रोक कैसे लगेगी।वहीं उन्होंने झारखंड में शिक्षा व्यवस्था पर सवालिया खड़ी करते हुए कहा कि अमीरों के बच्चे बड़े बड़े निजि स्कूलों में पढाई तो करा लेते है ।पर गांव गरीब की बच्चों की शिक्षा कैसे मिलेगी इसकी चिंता इस सरकार को नहीं है।उन्होंने कहा कि शिक्षा के बिना विकास की कल्पना नहीं कर सकते हैं ।झारखंड में शिक्षा स्वास्थ्य पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि  रघुवर सरकार साढे पांच हजार स्कूल को बंद कर दिया।वहीं अस्पताल तो है न तो डाॅक्टर हैं न ही  दवा है ।किसानों पर चिंता जताते हुए कहा कि एक ओर सरकार कहती है कि किसानों को लगात से डेढ गुणा ज्यादा देगे,परन्तु किसानों के सिचाई के लिए कोई व्यवस्था नहीं है।सरकार ने  डोभा तो बनाई पर डोभा में पानी तो नहीं निकली परन्तु पैसे निकल कर मंत्री तक पहुंच गई।उन्होंने केन्द्र की मोदी सरकार पर जमकर बरसा और कहा कि यह सरकार झूठ लूट खसौट की सरकार है।जन धन योजना के नाम पर गरीबों का  खाता खुलवाया गया,परन्तु सरकार मिनिमम बैंलेस के नाम गारीबो का 5 हजार करोड डकार गये।उन्होंने जोर देते हुए कहा कि यदि झारखंड का विकास करना है तो भाजपा की सरकार को उखाड़ फेंके और झाविमो सरकार बनाये।वहीं सभा को केन्द्रीय अध्यक्ष  डाॅ सबा अहमद,पूर्व विधायक गुरू सहाय महतो,सुरेश साव,अमरदीप निराला, जिला अध्यक्ष रजनी कौर शत्रुधन मंडल इकबाल अंसारी पूर्व डीएसपी रामशरण यादव,चन्द्रनाथ भाई पटेल महेश राम आसमा खातुन विश्वनाथ साव समेत दर्जनों लोगों ने  संबोधित किया।वहीं सभा की अध्यक्षता व संचालन  प्रखंड अध्यक्ष शहनवाज अंसारी ने किया ।

Add new comment

This question is for testing whether or not you are a human visitor and to prevent automated spam submissions.

Image CAPTCHA
Enter the characters shown in the image.