युवराज सिंह के पिता के निशाने पर धोनी, कहा- उनकी जैसी गंदगी हमेशा नहीं रहेगी

:: न्‍यूज मेल डेस्‍क ::

पूर्व क्रिकेटर युवराज सिंह‍ के पिता योगराज सिंह के निशाने पर एक बार फिर से महेंद्र सिंह धोनी हैं। उन्‍होंने अंबाती रायडू के संन्‍यास को लेकर धोनी पर निशाना साधा। योगराज सिंह ने कहा कि वह रायडू के संन्‍यास के फैसले से दुखी हैं। उन्‍होंने काफी जल्‍दबाजी में यह फैसला ले लिया। योगराज ने उनसे अपील की है कि वे अपने फैसले को वापस लें और घरेलू क्रिकेट में रन बनाकर चयनकर्ताओं को गलत साबित करें। बता दें कि अंबाती रायडू ने पिछले दिनों वर्ल्‍ड कप टीम में जगह न मिलने पर संन्‍यास का ऐलान कर दिया था। उन्‍हें वर्ल्‍ड कप की ऑरिजनल टीम में जगह नहीं मिली थी और इसके बाद जब शिखर धवन व विजय शंकर चोट के चलते बाहर हुए तब भी रायडू की अनदेखी की गई।

1 टेस्‍ट और 6 वनडे खेलने वाले योगराज सिंह ने रायडू के संन्‍यास का ठीकरा धोनी के सिर पर फोड़ा। इस दौरान उन्‍होंने धोनी की तुलना सौरव गांगुली से करते हुए कहा कि वह युवाओं को मौका देते थे जबकि धोनी ने ऐसा नहीं किया।

योगराज सिंह ने एनएनआईएस स्‍पोर्ट्स को बताया, 'रायडू को खेलते रहना चाहिए था। उसे रणजी ट्रॉफी, ईरानी ट्रॉफी, दलीप ट्रॉफी खेलते हुए 100, 200 और 300 नाबाद बनाने चाहिए थे। उसमें अभी भी काफी क्रिकेट बाकी है। रायडू मेरे बच्‍चे तुमने जल्‍दबाजी में फैसला लिया है। संन्‍यास से वापस आओ और उन्‍हें अपनी काबिलियत दिखाओ। एमएस धोनी जैसे लोग हमेशा नहीं रहते। उसके जैसी गंदगी हमेशा नहीं रहेगी।'

रायडू को 2015 क्रिकेट वर्ल्‍ड कप के लिए टीम इंडिया में चुना गया था लेकिन वे प्‍लेइंग 11 में जगह नहीं बना सके थे। इसके बाद वे कई साल तक टीम इंडिया के सदस्‍य रहे थे। वर्ल्‍ड कप 2019 से पहले भी वे टीम इंडिया में नंबर 4 पर खेलते थे। लेकिन इस साल आईपीएल फॉर्म ने उनके लिए वर्ल्‍ड कप में जाने के रास्‍ते बंद कर दिए। उनकी जगह विजय शंकर को वर्ल्‍ड कप में लिया गया था। लेकिन शंकर चोट के चलते बाहर हो गए। वे क्रिकेट वर्ल्‍ड कप 2019 में तीन मैच खेलकर बाहर हो गए। इन 3 मैचों में उनका प्रदर्शन भी साधारण ही रहा।

Sections

Add new comment

This question is for testing whether or not you are a human visitor and to prevent automated spam submissions.

Image CAPTCHA
Enter the characters shown in the image.