हमें 2015 का अपना रिकॉर्ड तोड़ना है : केजरीवाल

:: न्‍यूज मेल डेस्‍क ::

नई दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को नरेला और बवाना विधानसभा क्षेत्रों में रोड शो किया और लोगों से सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी (आप) को अधिक संख्या में वोट देने का आग्रह किया, ताकि वे 2015 के अपने ही रिकॉर्ड को तोड़ सकें। आप ने 2015 के विधानसभा चुनाव में दिल्ली की 70 में से 67 सीटें जीती थीं। 2020 में पार्टी ने इस बार इससे भी अधिक लक्ष्य रखा है।

रोड शो के लिए आए सैकड़ों लोगों को संबोधित करते हुए केजरीवाल ने आठ फरवरी को उन्हें उनके मताधिकार का इस्तेमाल करने को कहा।

ठंड के बावजूद रोड शो में आए लोगों का धन्यावाद करते हुए केजरीवाल ने कहा, "मैं आप सभी से आग्रह करता हूं कि आप आठ फरवरी को घरों से बाहर निकलें और अपने मताधिकार का इस्तेमाल करें। साथ ही 'झाड़ू' (आम आदमी पार्टी का चुनाव चिन्ह) का बटन दबाकर हमारी 2015 की जीत के रिकॉर्ड को तोड़ने का काम करें।"

इस मौके पर सैंकड़ों की संख्या में वॉलेंटियर हाथों में प्लेकार्ड्स लिए पार्टी के प्रचारी गीत 'लगे रहो, लगे रहो केजरीवाल' पर नाच रहे थे।

केजरीवाल के रोड शो के दौरान उनके साथ नरेला से पार्टी के उम्मीदवार शरद चौहान भी मौजूद रहे। बवाना सीट से उम्मीदवार जय भगवान उपकार भी अपने निर्वाचन क्षेत्र में रोड शो के दौरान केजरीवाल के साथ रहे। बाद में शाम को केजरीवाल गांधी नगर में एक और रोड शो करेंगे।

दिल्ली में आठ फरवरी को मतदान होना है। 11 फरवरी को मतदान के नतीजे आएंगे।

केजरीवाल के प्रदर्शन से खुश हैं 58 प्रतिशत दिल्ली के लोग

नई दिल्ली: दिल्ली में आठ फरवरी को विधानसभा चुनाव होना है। राजधानी के मतदाताओं का मूड मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के पक्ष में अधिक है।

आईएएनएस-सीवोटर के गणतंत्र दिवस 'स्टेट ऑफ द नेशन' सर्वेक्षण में 50 प्रतिशत से अधिक उत्तरदाताओं ने कहा कि वे मुख्यमंत्री के रूप में उनके प्रदर्शन से 'बहुत संतुष्ट' हैं। आईएएनएस-सीवोटर द्वारा रविवार को जारी हुए सर्वे में बताया गया कि देश भर के लोगों ने अपने मुख्यमंत्रियों, राज्य सरकारों, विपक्ष के नेताओं, उनके विधायकों और सांसदों के प्रदर्शन को शामिल करने के साथ महत्वपूर्ण पहलुओं पर अपने विचार व्यक्त किए।

दिल्ली की बात करें, तो सर्वे में लोगों की उन्हें लेकर सोच सकारात्मक है। केजरीवाल के नेतृत्व वाली आम आदमी पार्टी (आप) की सरकार के कार्य से 52.3 प्रतिशत लोग 'बहुत संतुष्ट', 22.6 प्रतिशत 'कुछ हद तक संतुष्ट' जबकि केवल 25.2 प्रतिशत उत्तरदाता असंतुष्ट हैं।

केजरीवाल के प्रदर्शन को 58.8 प्रतिशत लोगों ने अच्छा बताते हुए कहा कि वह केजरीवाल के कार्यो से खुश हैं। वहीं 24.6 प्रतिशत ने कहा कि वह कुछ हद तक उनके कार्य से संतुष्ट हैं। जबकि सिर्फ 16.6 प्रतिशत उत्तरदाता दिल्ली के मुख्यमंत्री से असंतुष्ट दिखाई दिए।

केजरीवाल जहां एक ओर लोगों के समर्थन के साथ शीर्ष पर हैं। वहीं नेता विपक्ष विजेंद्र गुप्ता अपने कार्यो से दिल्ली के लोगों को नहीं लुभा पाए हैं। 46.6 प्रतिशत लोगों को लगता है कि उन्होंने ठीक कार्य नहीं किया और सिर्फ 20.6 प्रतिशत उत्तरदाताओं ने माना कि उनका काम संतोषजनक रहा।

यह सर्वे 25 जनवरी तक करीब 12 हफ्ते तक जुटाए गए आंकड़ों पर आधारित है। इस दौरान 543 लोकसभा क्षेत्र में 30,240 लोगों से बातचीत की गई।

Add new comment

This question is for testing whether or not you are a human visitor and to prevent automated spam submissions.

Image CAPTCHA
Enter the characters shown in the image.